राजनीति में उठा तूफ़ान, कांग्रेस से गठबंधन तोड़ने जा रही हैं ये बड़ी पार्टी, महाचुनाव से पहले कोंग्रेस की बढ़ी मुसीबत, झूम उठे बीजेपी समर्थक

Written by TCN MEDIA, January 12, 2019

इस समय देश में चुनावी महौल चल रहा हैं । इसका कारण हैं 2019 के लोकसभा चुनाव जो ये तय करेगे की देश का अगला प्रधानमन्त्री कौन बनेगा । आपको याद ही होगा की 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में ऐसी मोदी लहर चली थी की विपक्ष की सभी पार्टी उस लहर में मानो उड़ ही गयी थी और प्रचंड बहुतम के साथ बीजेपी ने उन चुनावों में बाजी मार ली थी जिसके बाद देश को पीएम मोदी जैसा निडर और साहसी प्रधानमन्त्री मिला था ।

उस चुनावों की मोदी लहर को शायद कांग्रेस भी नही भूली और 2019 के लोकसभा चुनाव में कोई कमी नही रखना चाहती है, इसके लिए कांग्रेस इन चुनावों में महागठबंधन के साथ उतरने का मन बना चुकी हैं । लेकिन अभी अभी मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस के इस महागठबंधन को बड़ा झटका लगने वाला हैं क्योकि एक बड़ी पार्टी महागठबंधन से किनारा करने का इशारा कर चुकी हैं । इस खबर से फिलहाल कांग्रेस में हडकम्प मच गया हैं । इसका सबसे बड़ा कारण ये भी हैं की इस पार्टी ने कांग्रेस के सहयोग से ही भारत के एक राज्य में अपनी सरकार बना रखी हैं ।

ये कोई और नही बल्कि कर्नाटक की बड़ी पार्टी जेडीएस हैं जिसने साफ कहा हैं की वह महागठबंधन में शामिल नही हो सकती । जैसा की सभी जानते हैं कर्नाटक की विधानसभा में कांग्रेस और जनता दल सेक्यूलर पार्टी सहयोगी पार्टी हैं और दोनों के गठ्बन्धन से कर्नाटक में जनता दल सेक्यूलर पार्टी की सरकार हैं जिसके सीएम एचडी कुमारस्वामी हैं । पिछले साल यानी 2018 में कर्नाटक की सभी 222 सीटो पर हुए विधानसभा चुनाव में जहाँ बीजेपी ने 104 सीट जीती थी वही कांग्रेस के खाते में 78 सीट आई थी और जेडीएस गठ्बन्धन 39 सीट ले उड़ा था ।

आंकड़ो के हिसाब से किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुतम नही था लेकिन कांग्रेस कर्नाटक में बीजेपी की सरकार नही चाहती थी लिहाजा उसने जेडीएस के साथ गठ्बन्धन कर लिया और एचडी कुमारस्वामी को सीएम बनाये जाने की शर्त पर सरकार बना ली थी । आपकी जानकारी के लिए बता दे की कर्नाटक राज्य में लोकसभा की 28 सीट हैं जिन पर सभी राजनैतिक दल नजरे गडाये बैठे हैं ऐसे में कांग्रेस और जेडीएस के बीच अनबन की खबरे आ रही हैं । जेडीएस की माने तो जब से कांग्रेस ने देश के 3 राज्यों में अपनी सरकार बनाई हैं वह अब कर्नाटक में भी बड़े फैसले खुद ही कर रही हैं।

जेडीएस के प्रवक्ता ने तो यहाँ तक कह दिया की हमारी पार्टी के बड़े नेता यही राय दे रहे हैं की कर्नाटक की सभी 28 सीटो पर वह अपने प्रत्याशी उतारे । इसके बाद कयास लगाये जा रहे हैं की महागठ्बन्धन से भी जेडीएस किनारा कर सकती हैं । वही कर्नाटक में भी यदि जेडीएस और कांग्रेस का गठबन्धन टूटता हैं तो सरकार भी गिर सकती हैं ऐसे में बीजेपी के पास कर्नाटक में भी सरकार बनाने का मौका हाथ लग सकता हैं ।

Loading...
Loading...