इस मंदिर में हरशाम 5 से 6 बजे के बीच आते हैं श्रीकृष्ण-किस्मतवाले ही कर पाते हैं साक्षात दर्शन

Written by TCN MEDIA, January 11, 2019

New Delhi : श्री कृष्ण का एक चमत्कारी मंदिर द्वारिका से 350 किमी दूर गिर के जगंलों में बना हुआ है बता दें कि इस मंदिर को तुलसी श्याम के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में चमत्कार ऐसा होता है कि हर शाम 5 से 6 बजे के बीच मंदिर में पत्थर से घंटी बजाने जैसी अवाजें आती है और यहां पर हर चीज नीचे जाने की बजाय ऊपर की ओर जाने लगती है। इस दौरान श्रीकृष्ण वहां स्वयं आते हैं।  कहा जाता है कई किस्मत वाले लोगों को भगवान ने वहां दर्शन भी दिया है।

आपको जानकर भले ही हैरानी हो लेकिन यहां पर कार भी ढ़लान पर अपने आप ही ऊपर की ओर बढऩे लग जाती है। वहीं मंदिर में जाने वाले रास्ते में एक रहस्यमयी पत्थर भी देखने को मिलता है। जो दिखने में तो एक सामान्य पत्थर की तरह की दिखाई पड़ता है लेकिन जब इसे किसी दूसरे पत्थर के साथ सजाया जाता है तो उससे आवाजें लगाने लगती है जैसे कि मंदिर में बजने वाली कोई घंटी हो।

वहीं यहां के लोगों का ये भी कहना है कि एक बार भगवान शाम के समय घूमने के लिए और उसी वक्त आरती भी होने लगी ऐसे में भगवान ने नजदीक एक पत्थर को ऐसा बना दिया, जिसमें घंटी की तरह ही आवाजें आती हों। रिपोर्ट की मानें तो वैज्ञानिकों ने इसे लेकर ये दावा किया था कि इस पत्थर में धात्विक तत्वों की मात्रा ज्यादा है। यही वजह है कि मंदिर से घंटी की आवाजें आती है। रिपोर्ट में तो ये भी बताया गया है कि भगवान श्री कृष्ण के इस मंदिर में गुरुत्वाकर्षण के कोई नियम काम नहीं करता। फिर चाहे वो पत्थर हो या कार, हर चीज मैग्नेट की तरह भगवान कृष्ण के मंदिर की और आकर्षित हो आती है। इस चमत्कार को देखकर वैज्ञानिकों की ओर से ये तर्क भी दिया गया है कि दुनिया में एंटी-ग्रेविटी नाम की कोई चीज है ही नहीं।

Loading...
Loading...