नागमणि अपनी पत्नी के साथ JDU में हुए शामिल, उपेंद्र कुशवाहा को बताया बिहार का सबसे बड़ा धोखेबाज नेता


0

Patna: रालोसपा के पूर्व कार्यकारी अध्‍यक्ष नागमणि शनिवार को अपनी पत्नी व बिहार की पूर्व मंत्री सुचित्रा सिन्हा के साथ जदयू में शामिल हो गए। जहां जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने दोनों को पार्टी की सदस्यता दी। इस दौरान नागमणि ने रालोसपा नेता उपेंद्र कुशवाहा पर जमकर हमला बोला और कुशवाहा को बिहार का सबसे बड़ा धोखेबाज नेता बताया।

तो वहीं उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन से पांच सीटें लेने के बाद उपेंद्र ने काराकाट और उजियारपुर की सीटें अपने लिए रख लीं और फिर तीन सीटों को भारी-भरकम रकम लेकर बेच दिया। नागमणि ने कहा कि मोतिहारी की सीट के लिए उपेंद्र कुशवाहा ने प्रवीण मिश्रा से 12 करोड़ जबकि आनंद माधव से 9 करोड़ रुपए लिए थे। फिर भी इस सीट को ऐसे व्यक्ति को दे दी जो रालोसपा का सदस्य तक नहीं था। पता नहीं उससे कितने में डील हुई होगी? सच्चाई यही है कि उपेंद्र कुशवाहा बिहार में लव-कुश की एकता को तोड़ने की साजिश कर रहे हैं। लेकिन नीतीश कुमार और नागमणि के साथ रहते कुर्मी और कोयरी हमेशा एकजुट रहेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के विकास के लिए सबको साथ लेकर एक बेहतरीन कार्य कर रहे हैं। हम इससे प्रभावित होकर बगैर किसी शर्त के जदयू में शामिल हुए हैं।

उधर इस संबंध में जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि नागमणि के आने से बिहार में जदयू और मजबूत होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में हमलोग जदयू को मजबूत करेंगे और हर स्तर पर उनका साथ देंगे। आपको बता दें कि इस मौके पर जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह, प्रदेश महासचिव डॉ.नवीन आर्या, ओमप्रकाश सिंह सेतु और मुकेश कुमार सिंह मौजूद थे।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *