जेल में ही रहेंगे लालू, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की राजद अध्यक्ष की जमानत याचिका


0

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को बड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. कोर्ट के इस फैसले के साथ ही यह तय हो गया है कि लालू चुनाव के दौरान जेल से बाहर नहीं निकल सकेंगे. इससे पहले सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने लालू के वकील कपिल सिब्बल को कहा कि वो मेरिट पर सुनवाई नही करेंगे.

CJI ने कहा कि आप कई मामलों में दोषी हैं. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि सभी केसों में सजा एक साथ चलेगी या नहीं ये मामला हाईकोर्ट देखेगा. इसमें हम दखल नही देंगे. चारा घोटाले से जुड़े मामलों में दोषी करार दिए जा चुके और सजा काट रहे राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की ओर से सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की गई थी.

इससे पहले मंगलवार को सीबीआई की ओर से लालू प्रसाद को जमानत नहीं देने को लेकर पुरजोर विरोध किया गया था.  सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर कहा कि लालू प्रसाद यादव अस्पताल से राजनीतिक गतिविधियों का संचालन कर रहे हैं. वह लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जमानत मांग रहे हैं. वह अब मेडिकल आधार पर जमानत मांगकर कोर्ट को गुमराह कर रहे हैं.

सीबीआई ने कहा कि लालू यादव को अपनी राजनीतिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए जमानत नहीं मिलनी चाहिए. अगर सभी सजाओं को एक साथ जोड़कर देखा जाए तो लालू को साढ़े तीन साल नहीं, बल्कि 27.5 साल की जेल हुई है. वह जेल में न रहकर अस्पताल के विशेष वार्ड में रह रहे हैं.

लालू प्रसाद यादव ने उम्र और बीमारी का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है. उन्होंने एसएलपी दायर कर कहा कि वह 71 साल के बुजुर्ग हैं और लंबे समय से बीमार चल रहे हैं. बिहार की सियासत में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी भूमिका रही है. ऐसे में लालू के समर्थकों को उम्मीद है कि लोकसभा चुनाव से पहले वे जमानत पर छूट जाएंगे.

Source: News18 India


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *