जूनियर डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीजों का बुरा हाल, पटना में ही अबतक 15 की मौत


0

बिहार में जूनियर डॉक्टर की हड़ताल से बिहार की स्वास्थय व्यवस्था काफी चड़मड़ा गयी है. एक तरफ जहाँ इस हडताल को लेकर डॉक्टर डटे हुए हैं वहीं इस हड़ताल से मरीजों का हाल काफी खराब है. सोमवार से चल रही जूनियर डॉक्टर की हड़ताल से मरीजों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. इस हड़ताल का सबसे बुरा प्रभाव पटना के PMCH पर पड़ा है. अबतक इस हड़ताल की वजह से 15 मरीजों की जान जा चुकी है.

आपको बता दे कि जूनियर डॉक्टर्स ने अपने हड़ताल से पहले स्वाथ्य विभाग और PMCH प्रशासन से बिहार कोटे में पटना AIMS में छात्रों के दाखिले की अनुमति पर रोक लगाने की मांग की और अब इन्ही मांगो को लेकर डॉक्टर हड़ताल पर अड़े हुए हैं. इस हड़ताल का समर्थन PMCH के MBBS के छात्र भी कर रहे हैं. हड़ताल के पहले जूनियर डॉक्टर्स ने PMCH एसोसिएशन के बैनर तले हड़ताल का ज्ञापन अस्पताल के कार्यकारी अधीक्षक डॉक्टर रंजीत कुमार को सौंपा था.

इस हड़ताल की वजह से मरीजों के साथ आये हुए परिजन डॉक्टर्स के आगे पीछे चक्कर लगा रहे हैं. पिछले दो दिनों में PMCH में 14 से ज्यादा ऑपरेशन्स टल चुके हैं. अब ऐसी परिस्थिति में सरकार को जल्द से जल्द इस हड़ताल को ख़त्म करवाना होगा।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *