कन्हैया कुमार ने नामांकन पत्र में खुद को बताया बेरोजगार,पिछले दो साल में कमाए 8.58 लाख रुपये


0

कन्हैया कुमार के पास न घर है न गाड़ी. बेगूसराय में उनके गांव बीहट में थोड़ी जमीन है. यह जमीन उन्हें विरासत में मिली है. बेगूसराय सीट से चुनाव लड़ रहे कन्हैया कुमार ने 9 अप्रैल को नामांकन दाखिल किया था. चुनाव आयोग को दिए हलफनामे के मुताबिक कन्हैया ने खुद को बेरोजगार बताया है. हालांकि वह स्वतंत्र लेखन का काम करते हैं. कुछ कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में लेक्चर देने जाते हैं. कन्हैया ने एक किताब लिखी है जिसका नाम है ‘बिहार टू तिहाड़’. कन्हैया के इनकम का सबसे बड़ा सोर्स किताब से मिलने वाली रॉयल्टी है.

#हलफनामे के मुताबिक कन्हैया के पास कैश इन हैंड 24 हजार रुपए हैं. कन्हैया के बैंक खाते में सेविंग और इनवेस्टमेंट की रकम 3,57,848 रुपए है. साल 2017-18 में कन्हैया की कुल आय 6,30,360 रुपए थी. 2018-19 में ये घटकर 2,28,290 रुपए रह गई. कन्हैया के पास 8 लाख से ज्यादा की संपत्ति है.

#हलफनामे के मुताबिक कन्हैया पर धार्मिक सद्भाव बिगाड़ने, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, अनाधिकृत सभा करने और धारा 124 A के तहत नारेबाजी करने के 5 मामले दर्ज हैं. हालांकि किसी मामले में उन्हें सजा नहीं हुई है.

#बेगूसराय सीट से बीजेपी के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एनडीए की ओर से चुनाव लड़ रहे हैं. एनडीए गठबंधन में बीजेपी, जेडीयू और एलजेपी शामिल हैं. वहीं आरजेडी, कांग्रेस, आरएलएसपी, हम और अन्य पार्टियों के महागठबंधन के उम्मीदवार तनवीर हसन हैं.

गिरिराज सिंह की कितनी संपत्ति है
चुनाव आयोग को दिए हलफनामे के मुताबिक गिरिराज सिंह और उनकी पत्नी की कुल चल-अचल संपत्ति 8,30,24,577 रुपए है. 2014 में 5,00,54,771 रुपए थी. गिरिराज सिंह और उनकी पत्नी पर 1,22,36,000 रुपए की देनदारी है. इसमें कार और होम लोन शामिल है.

गिरिराज सिंह के पास 1,74,000 रुपए और उनकी पत्नी के पास 1,10,000 नकद हैं. अलग-अलग बैंक खातों में करीब 83 लाख रुपए जमा हैं. उन पर आचार संहिता के उल्लंघन, भू-स्वामित्व विवाद और जनप्रतिनिधि कानून के तहत 6 मामले दर्ज हैं. बेगुसराय में चौथे चरण के तहत 29 अप्रैल को वोटिंग है.

Source: The Lallantop


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *