चुनावी हलफनामे में स्मृति ईरानी ने बताया वो 12वीं पास हैं, नहीं पूरी की ग्रेजुऐशन


0

New Delhi : केंद्रीय मंत्री और अमेठी से BJP उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने अपनी शिक्षा को लेकर चुनावी हलफनामें में घोषणा की है कि वो 12वीं पास हैं और उन्होंने ग्रेजुऐशन पूरी नहीं की है। बता दें कि स्मृति उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ रहीं हैं।

स्मृति ईरानी ने गुरुवार को चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में घोषित किया कि वे ‘ग्रेजुएट’ नहीं हैं। पहली बार उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में साफ लिखा कि उन्होंने तीन साल की डिग्री कोर्स पूरा नहीं किया। हलफनामे में उच्चतम शिक्षा के कॉलम में स्मृति ईरानी ने लिखा- दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (पत्राचार) से ‘बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1.’ इस कोर्स कोर्स का वर्ष उन्होंने 1994 लिखा है। इसका अर्थ है कि उन्होंने इस साल यह डिग्री कोर्स शुरू किया था लेकिन इसे पूरा नहीं किया। उन्होंने कोष्टक में लिखा है कि ‘तीन साल की डिग्री कोर्स अपूर्ण।’ हलफनामे के अनुसार ईरानी ने 1991 में हाईस्कूल की परीक्षा पास की, 1993 में इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की।

इससे पहले साल 2014 में अमेठी सीट से पहली बार चुनाव लड़ने के दौरान स्मृति ईरानी ने हलफनामे में लिखा था कि 1994 में उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (पत्राचार) से बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1 किया। इससे पहले साल 2004 में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के खिलाफ दिल्ली के चांदनी चौक लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने के दौरान स्मृति ने एफिडेविट में लिखा था कि उन्होंने सन 1996 में दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ करस्पांडेंस से बैचलर ऑफ आर्ट किया।

राज्यसभा सदस्य स्मृति ईरानी की प्रोफाइल में लिखा है कि वे दिल्ली के होली चाइल्ड अक्सिलियम में शिक्षित हुईं और दिल्ली यूनिवर्सिटी के दिल्ली स्कूल ऑफ करस्पांडेंस से शिक्षा ले रही हैं।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *