कन्हैया का केंद्र सरकार पर कटाक्ष, कहा – असली डिग्री वालों से की जा रही है लड़ाई


0

भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी जो अमेठी लोकसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में कड़ी हैं, उनके डिग्री पर एक बार फिर विवाद शुरू हो चुका है। और अब इस विवाद में भाकपा प्रत्याशी और जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए ट्वीट करके बोला की अशिक्षा से लड़ने के बजाय नकली डिग्री वाली सरकार पिछले पांच वर्षों से असली डिग्री वाले छात्रों से लड़ने में लगी हुई है। तभी तो मंत्री जी की डिग्रियां और विकास, दोनों आगे चलने की जगह पीछे चल रहे हैं। आपको मालूम होना चाहिए कि अमेठी लोकसभा क्षेत्र से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भाजपा की तरफ से गुरुवार यानि 12 अप्रैल को नामांकन भरा था, और उन्होंने खुद को नामांकन पत्र में 12वीं पास बताया था।

इससे पहले 2004 और 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने खुद की शैक्षणिक योग्यता को अलग-अलग बताया था। स्मिर्ति ईरानी ने 2004 में दिल्ली यूनिवर्सिटी से आर्ट डिग्री में स्नातक होने की बात शपथ पत्र के रूप में बताया था। इसके बाद स्मृति ईरानी ने 2014 में दिल्ली यूनिवर्सिटी से 1994 में कॉमर्स पार्ट-1 में स्नातक होने की बात को बताया था। लेकिन स्मृति ईरानी ने इस बार यानि 2019 के चुनाव में उन्होंने खुद को 12वीं पास बताया है। गौरतलब है कांग्रेस ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन कर बताया कि स्मृति ईरानी का शपथ पत्र बताता है की उन्होंने पहले झूठ बोला है, इसलिए उनका नामांकन ख़ारिज होना चाहिए।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *