राबड़ी देवी ने मंजूर किया PK का चैलेंज,बोलीं- पहले जेल आईजी से लें अनुमति


0

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के ऑफर को लेकर जो खुलासे किए उसपर बिहार में सियासत गर्मा गई है. प्रशांत किशोर (पीके) ने इस मामले पर आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव को मीडिया के सामने खुली बहस करने की चुनौती दी है. वहीं पीके की इस चुनौती को राबड़ी देवी ने स्वीकार करते हुए बहस के लिए नए दरवाजे खोल दिए हैं.

राबड़ी देवी ने कहा कि लालू यादव जेल में हैं. अगर प्रशांत किशोर को उनसे खुली बहस करनी है तो पहले रांची के जेल आईजी से परमिशन ले लें. राबड़ी देवी ने प्रशांत पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, “नीतीश कुमार माफी और अनेक प्रकार की लुभावनी डील के साथ महागठबंधन में आने को गिड़गिड़ा रहे थे. बार-बार उनके कबूतर चिट्ठी लेकर आ रहे थे. एकबार उनके दूत को इस विषय पर बात करने पर मैंने उसे घर से निकाल दिया था.”

बता दें कि राबड़ी देवी के खुलासे के बाद पीके ने ट्वीट कर लालू यादव के परिवार को चुनौती देते हुए कहा कि जब चाहें, मेरे साथ मीडिया के सामने बैठ जाएं, सबको पता चल जाएगा कि मेरे और उनके बीच क्या बात हुई और किसने किसको क्या ऑफर दिया.

पीके के इस बयान के बचाव में जेडीयू-बीजेपी और आरजेडी-कांग्रेस आमने-सामने आ गए. जेडीयू के प्रवक्ता ने कहा कि लालू की सियासी नैया डूब चुकी है और ऐसे बयान इसी की छटपटाहट है. उन्होंने कहा कि लालू जी झूठ और फरेब की राजनीति करते रहे हैं और आज भी यही कर रहे हैं.

Source: News18 Bihar


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *