MAYAWATI ने चुनाव आयोग को भेजा जवाब, कहा-धर्म के नाम पर नहीं मांगा वोट


0

New Delhi : UP के देवबंद में रैली के दौरान कथित रूप से धार्मिक आधार पर वोट करने की अपील के मामले में BSP अध्यक्ष MAYAWATI ने चुनाव आयोग को अपना जवाब दे दिया है। चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भेजा था।

मायावती ने अपने बयान पर माफ़ी नहीं मांगी है। मायावती ने चुनाव आयोग से कहा है कि उन्होंने सभी बिरादरी से वोट डालने की अपील की थी। बताते चलें कि देवबंद में महागठबंधन की रैली के दौरान मायावती ने कहा था कि अगर बीजेपी को हराना है तो मुस्लिम बिरादरी के सभी मतदाता अपना वोट महागठबंधन के कैंडिडेट को दें। मायावती ने कहा था कि अगर मुसलमानों का वोट बंटता है तो बीजेपी को फायदा होगा।

मायावती ने कहा कि यूपी में योगी की पार्टी को न अली का वोट पड़ेगा न बजरंग बली का वोट पड़ेगा। दलित कांग्रेस के साथ और बीजेपी का साथ छोड़ चुका है। मायावती ने कहा कि कांग्रेस केंद्र और राज्य में सत्ता में रही लेकिन गरीबों और किसानों के लिए कुछ नहीं किया।

मायावती ने कहा, हमारे अली भी हैं और बजरंग बली भी। हमें बजरंग बली इसलिए चाहिए क्योंकि मेरी जाति है। ये खोज खुद योगी ने किया है। मैं योगी की आभारी हूं। अली और बजरंग बली के गठजोड़ से एक अच्छा रिजल्ट मिलने वाला है।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *