Video: खगड़िया से कौन बनेगा सांसद?


0

इस सीट पर अधिकांश बार जनता दल का कब्जा रहा है. बाद में यही पार्टी जदयू हो गई जिसने 1999 में जीत दर्ज की. उससे पहले 89,91 और 96 में तीन बार लगातार जनता दल ने इस सीट पर जीत हासिल की थी. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद चौधरी महबूब अली कैसर विजयी रहे जिन्होंने आरजेडी की प्रत्याशी कृष्णा कुमारी यादव को हराया. कृष्णा कुमारी यादव पूर्व विधायक रणवीर यादव की पत्नी हैं। आरजेडी ने खगड़िया की पूर्व प्रत्याशी कृष्णा यादव को इस बार पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

https://youtu.be/SlmW_ODcD3A

खगड़िया मुंगेर डिवीजन में पड़ता है जिसका जिला मुख्यालय खगड़िया सिटी में है। इस संसदीय क्षेत्र में छह विधानसभा सीटें हैं. इनके नाम हैं–सिमरी बख्तियारपुर, खगड़िया, हसनपुर, बेल्दउर, अलौली (एससी) और परबत्ता. इनमें अलौली विधानसभा सीट एससी के लिए आरक्षित है।

अब अगर बात करे 2014 के लोकसभा चुनाव की तो यहा से एलजेपी के चौधरी महबूब अली कैसर ने जीत दर्ज की. उन्होंने आरजेडी के कृष्णा कुमारी यादव को हराया. कैसर को 313806 वोट मिले तो कृष्णा यादव को 237803 वोट मिले . इस सीट पर पर नोटा में भी 23868 वोट दर्ज हुए. वही तीसरे नंबर पर रहे जदयू के दिनेश चंद्र यादव। 2009 के चुनाव में जदयू के दिनेश चंद्र यादव जीते थे।

वही अगर बात करे 2019 के लोक सभा की तो महागठबंधन से वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी चुनावी मैदान मे हैं वहीं एनडीए ने लोजपा उम्मीदवार महबूब अली कैसर को फिर से मैदान में उतरा हैं।

खगड़िया लोकसभा क्षेत्र के छह विस क्षेत्रों में से पांच पर जदयू तो एक पर राजद का कब्जा हैं।

इस बार के लोकसभा चुनाव में 16 लाख 53 हजार 928 म73 हजार 363 पुरुष तो सात लाख 80 हजार 525 वोटर महिला हैं।

तदाता सांसद प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इसमें आठ लाख

ब‍िहार की खगड़‍िया लोकसभा सीट पर इस बार महागठबंधन में शाम‍िल व‍िकासशील इंसान पार्टी के मुकेश साहनी और लोक जन शक्ति पार्टी के चौधरी महबूब अली कैसर के साथ ही और लोगो के बिच मुकाबला है. मुकेश साहनी बॉलीवुड के फेमस सेट ड‍िजाइनर हैं और न‍िषादों की राजनीत‍ि में इनका दखल है.


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *