IPS सौम्या ने बता दी थी अपनी असली ताक़त, एक विधायक को जड़ दिया था थप्पड़


0

असल मायने में देश की सुरक्षा अफसरों के हाथों में होती है। अगर देश का नौकरशाही अच्छा रहे तो कानून-व्यवस्था भी सलामत रहती है। जिस तरह से नौकरशाही को रिश्वत का दीमक खाये जा रहा है, जनता का उस पर भरोसा ख़त्म होता जा रहा है। लेकिन इस देश कुछ ऐसे भी अफसर बचे हुए हैं, जो अपने काम के प्रति नौकरशाही की इज़्ज़त को बचा कर रखे हुए हैं। आज हम आपको ऐसी ही एक अफसर IPS सौम्या सांबशिवन के बारे में बताने जा रहे हैं।

सौम्या बायो स्ट्रीम से स्नातक हैं और MBA भी कर चुकी हैं। मल्टीनेशनल बैंक में भी सौम्य ने काम किया है। सौम्या को लेखिका बनने का शौक था। इससे पहले सौम्या ने सिरमौर में बतौर एसपी कार्यरत थी। उससे पहले सौम्या शिमला बतौर ASP भी कार्य कर चुकी थी। इनके बारे में बताया जाता है की इन्होने एक विधायक को वर्ष 2006 में एक प्रदर्शन के दौरान उनके ख़राब प्रदर्शन के लिए थप्पड़ जड़ कर जेल भेज दिया था। कई ऐसी उपलब्धियां IPS सौम्या ने अर्जित की हैं जिसके कारण हिमाचल प्रदेश पुलिस (HPP) चर्चा बन गई हैं।

बहादुर अफसरों में सौम्या की गिनती होती है: प्रदेश के बहादुर अफसरों में IPS सौम्या की गिनती की जाती हैं। ड्रग्स, शराब, और मानव तस्करी से बढ़ते हुए मसलों को सिरमौर में रोकने का श्रेय ऐसी ही महिला अफसरों को जाता है। इन्होने ब्लाइंड मर्डर के कई मसलों को एसपी सिरमौर रहते हुए अच्छे से निपटाया था। खतरनाक अपराधियों को पकड़ने में भी सौम्या माहिर हैं। उन्होंने एक ऐसे अपराधी को हिरासत में लिया था जो तिहार से छूट चूका, और जो हत्या के आरोप में सरेआम घूम रहा था। आपको बता दें की मुख्य तौर पर सौम्या केरल की रहने वाली हैं। सौम्या अपने माता-पिता की इकलौती बेटी हैं। सौम्य के पिता इंजीनियर थे।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *